लीवर की सूजन(fatty liver) में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं

                                      लीवर की सूजन(fatty liver) में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं

what food to eat and avoid in fatty liver in hindi बिना शराब के होने वाली लिवर फैटी की समस्या जिसे (NAFLD ) कहते है, से अधिक लोग ग्रसित होते है जो कि गलत लाइफस्टाइल और अंसतुलित आहार के वजह से होती है। यदि व्यक्ति इस बीमारी के पहले चरण में है तो यह उचित आहार से भी ठीक हो सकता है।  यहाँ जानेंगे कि कौन से आहार खाने या न खाने से फैटी लिवर से निजात पाया जा सकता है  - 

फैटी लिवर कैसे होता है -  causes of fatty liver disease in hindi

जब लिवर में वसा की मात्रा अधिक हो जाये तो उसे फैटी लिवर कहते है।  लिवर विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है जिससे कुछ वसा लिवर में जमा हो जाता है जो कि सामान्य है पर यह जब अधिक मात्रा में स्टोर होने लगता है तो लिवर ठीक से काम नहीं कर पाता है ।  

इसके कारण दूसरी बीमारिया होने का भी खतरा रहता है।  अधिक वजन के कारण भी यह होता है। 

टाइफाइड को जड़ से खत्म करने का घरेलू इलाज

यह दो प्रकार का होता है -

नॉन अल्कोहेलिक लिवर डिजीज (NAFLD)

यह गलत खान-पान, असंतुलित जीवनशैली, मधुमेह, मोटापे जैसे कारणों की वजह से होता है।  ऐसे में लिवर में सूजन और वसा जम जाता है।  इस प्रकार के फैटी लिवर में सिरोसिस, फाइब्रोसिस आदि शामिल है।

अल्कोहेलिक लिवर डिजीज

इस प्रकार में लिवर की सेल्स को क्षति पहुँचती है और साथ ही सूजन भी रहती है।  जितना शराब का सेवन किया जायेगा स्थिति खराब होती जाएगी। 

फैटी लिवर के लक्षण - symtoms of fatty liver in hindi 

वजन में गिरावट 

पेट फूलना या दर्द होना। 

कमजोरी होना 

पीलिया की समस्या भी आ सकती है। 

कम हो जाना 

उल्टी होना। 

गुर्दे की पथरी: लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार

फैटी लिवर में क्या खाये - food to eat during fatty liver disease in hindi

ऐसे आहार को अपनाये जिनमे एंटीऑक्सीडेंट, जटिल कार्बोहाइड्रेट्स, monounsaturated fat हो, न कि ट्रांस फैट और वजन बढ़ाने वाले तत्व।  जिससे भविष्य में इससे बचा जा सके। कुछ घरलू उपाए से फैटी लिवर की बीमारी  पायी जा सकती है -

दलिया 

यह वजन कम करने में सहायक होता है इसमें भारी मात्रा में बीटा-ग्लुकोन  पाया जाता है। अपने आहार में इसे अवश्य शामिल करें। 

आंवले का चूर्ण 

दिन में एक या दो बार आंवले का चूर्ण पानी के साथ लेने से फैटी लिवर की मुश्किल नहीं होती है। इसके अलावा कच्चा आमला भी खा  सकते है।  जैसा कि सभी को पता है की इसमें एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी होता है। 

पालक 

फैट को कम करने के लिए अधिक सब्जिया खाने कि सलाह दी जाती है जिनमे से एक पालक है जिसमे पॉलीफेनोल्स होते है लेकिन अधिक पकने से यह खत्म भी हो जाते है।  इसका जूस भी पिया जा सकता है। 

लहसुन 

खाने के साथ कच्चा लहसुन खा सकते है यह असंतुलित आहार से हुए फैटी लिवर को खत्म करने में मदद करता है।  कच्चे और उबले अंडे खाने के फायदे और नुकसान

fatty liver में खाये केला 

केला खाने से पाचन तंत्र दुरुस्त होता है, इसमें भरपूर पौटेशियम पाया जाता है ।  लिवर(यकृत) में फैट जमा होना से खाना पचाने में मुश्किल होती है  ऐसे में केला खाना फायदेमंद होता है। 

अंडा 


फैटी लिवर में अंडा खाना चाहिए या नहीं। तो अंडा खा सकते है बस इसका पीला भाग (योल्क) निकाल दे क्योंकि पीले भाग में फैट अधिक होता है। 

monounsaturated fat का इस्तेमाल करें 

इस प्रकार के फैट में अवाकाडो, बादाम, ऑलिव, मछली आदि को शामिल कर सकते है।

छाछ पिए 

छांछ में लौ फैट होता है इसमें कला नमक, भुना जीरा और हींग डालकर सेवन करें।   

मछली 

मछली में एन-3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है।  इसके अलावा यह फ्रुक्टोज और सुक्रोज बनाता जिससे लिवर की सूजन कम होने में सहायता मिलती है। 

ब्रोक्कोली 

ब्रोकोली विटामिन सी से युक्त होता है और लिवर से जुडी समस्या से निजात के लिए फायदेमंद है। 


इन सबके साथ अपना वजन भी कम करने की कोशिश करे इससे लिवर की परेशानिया बहुत कम हो जाती है। 

लिवर की सूजन में क्या न खाये - food non-eating in fatty liver in hindi

नमक का उपयोग अधिक न करें। 

शराब का सेवन छोड़े। 

अंडे की जर्दी न खाये। 

अतिरिक्त शुगर वाले खाद्य पदार्थो को खाने से बचे। 

रेड मीट न खाये। 

मैदा वाले आहार न खाये। 

सफ़ेद ब्रेड कम खाये। 

फुल वसा वाले दूध और दही 

फ्राई वाले फ़ूड। 


निष्कर्ष 

 यहाँ केवल वे उपाय बताये गए जो तब करने चाहिए जब इसके लक्षण सिर्फ समान्य रूप में दिख रहे हो। यदि फैटी लिवर बीमारी गंभीर है तो अच्छे डॉक्टर को अवश्य दिखाए।


FAQ 

Q - फैटी लिवर में घी खाना चाहिए कि नहीं ?

ANS - घी मक्खन से अधिक फायदेमंद और सुरक्षित है।  फैटी लिवर के दैरान तेल, घी, मक्खन, मसाले नहीं खाने चाहिए।  लेकिन यदि आपको लिवर की परेशानी नहीं है तो घी खाये क्योंकि इसके कई लाभ है, पर मक्खन नहीं खाये। 

Q - फैटी लिवर में दही खाना चाहिए कि नहीं?

ANS - सिमित मात्रा में खा सकते है।