किचन में मौजूद है खर्राटे की परेशनी का इलाज जानिए क्या वे हैं चीज़े

 

किचन में मौजूद है खर्राटे की परेशनी का इलाज जानिए क्या वे हैं चीज़े

Snoring Home Remedies in : बहुत से लोगो को रात (Night) में सोते समय खर्राटे (Snoring) लेने की समस्‍या होती है कुछ लोग अधिक लेते है तो कुछ कम। इससे उन्हें तो अधिक फर्क नहीं पड़ता है क्योंकि वे गहरी नींद में होते है।   आस-पास पास सोने वालो को बहुत परेशनी होती है। यदि घर में किसी को खर्राटे आते है तो यहाँ बताये गए घरेलू उपायों (home remedies for snoring) को अपनाकर खर्राटे की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं . 

खर्राटे कैसे आते है ?

सोते समय सिर के मुलायम ऊतक जो टांसिल और मुँह के रस्ते में होते है। सांस लेने के दौरान इन ऊतक और गले में कम्पन होता है जो खर्राटों के रूप में सुनाई देता है। इस आर्टिकल में जानिए how to control snoring while sleeping naturally in hindi


खर्राटे लेने की कई वजहें हो सकती  जैसे - नाक और गले की मसल्स का कमजोर हो जाना, अधिक  मोटापा, सर्दी लग जाना, स्मोकिंग, थकान, साइनस की समस्या, तनाव, रेस्पिरेट्री समस्या, लंग्स में प्रॉपर ऑक्सीजन न पहुंचना, मुंह के ऊपर और गर्दन के टिश्यू में सूजन, स्लीप एपनिपिया के वजह से भी। 

  .

खर्राटे में आराम पाने के घरेलू उपाए - home remedies for snoring in hindi


शहद 

शहद प्रचुर एंटी एंटी माइक्रोबियल और इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। खर्राटों की समस्या में आराम पाने में यह काफी असरदार है।  सोने से पहले गर्म पानी में शहद को मिलाकर पिएंगे तो बहुत आराम मिलेगा। शहद का सेवन करने से नाक का मार्ग खुलता है जिससे ऑक्सीजन आसानी से गुजरती है।

पुदीना 

पुदीना (peppermint) का तेल गुनगुने पानी में डालकर गरारा करें तो कुछ ही दिनों में खर्राटे की परेशानी दूर हो सकती है। दूसरा तरीका यह है कि गुनगुने पानी में पुदीना का पत्‍ता को उबाल कर पीने से खर्राटे की मुश्किल धीरे-धीरे खत्‍म हो सकती है। 

दालचीनी 

दालचीनी खर्राटे को कम करने में उपयोगी है। एक गिलास गुनगुना पानी लें और फिर इसमें दो से तीन चम्‍मच दालचीनी (cinnamon) का पाउडर को  मिलाएं।  अब इसे पी लें। ऐसा कुछ दिन लगातार करें। 

लहसुन

लहसुन से (Garlic) खर्राटे में राहत मिलती है फिर चाहे यह साइनस के कारण क्यों न आ रहे हो ।  . इसके लिए रोजाना रात को सोने से पहले लहसुन की एक या दो कलियां भून के शहद के साथ खाएं और पानी पी लें।  आपको खर्राटे से राहत मिल सकती है. 


जैतून तेल

खर्राटे आने की प्रॉब्लम्स को दूर करने में जैतून का तेल बहुत कारगर है। इससे सांस लेने में आने वाली समस्या दूर हो जाती है। इसलिए रात को सोने से पहले जैतून तेल की कुछ बूंदे नाक में डाल लेना  चाहिए। दरसल जैतून का तेल शरीर की सूजन को कम करता है, ऐसे में यह गले कि सूजन कम करता जिससे हवा गले के अंदर आसानी से आती-जाती है। रोजाना ऐसा करने से खर्राटों को रोकने में मदद मिलती।   


देसी घी 

देसी घी (Ghee) को हल्का गर्म कर ले और अब इसकी कुछ बून्द को नाक में रात को सोते समय डाल ले इससे खर्राटे आने की परेशानी दूर होती है। 

हल्‍दी

किसी व्यक्ति को खर्राटे लेने की समस्या है तो वो हल्दी का सेवन करें। इसके लिए रात को सोने से पहले हल्‍दी(turmeric)  वाला दूध पिए। जैसा कि सभी को पता है की हल्दी में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते होते हैं यानि ये शरीर में किसी भी प्रकार  सूजन को  सहायक है। खर्राटे लेने वालों के नाक या गले के रास्ते सूजन हो जाती है हल्दी का दूध पीने से यह मुश्किल कम होगी है। 

वजन कण्ट्रोल करें

अक्सर देखा गया है कि अधिक वजन वालों को खर्राटे अधिक आते है।  जब मोटापा होता है तो गर्दन  में वसा जमा होता है। वेट लोस करने से खर्राटों में कमी की जा सकती है। 

तरल पदार्थ अधिक लें 

तरल अधिक लेने से भी खर्राटे कम आते है इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को पानी के साथ तरल चीज़े अधिक खानी  पीनी चाहिए। हाइड्रेट रहना हेल्थ के लिए जरुरी है। 

सोया मिल्क का करें सेवन

सोया मिल्क का सेवन करने से भी आपको खर्राटों की समस्या में आराम मिलता है। 

प्याज

रात के खाने में पकी हुई या कच्ची प्याज को शामिल करें। प्याज खर्राटों की समस्या को दूर करने में लाभदायक है। 

इलायची


एक गिलास पानी में एक चम्मच या फिर आधा चम्मच इलायची का पाउडर मिलाएं और सोने से आधा घंटा पहले पी लें। इलायची बंद नाक को खोलने में फायदेमंद होता है जिससे गले के अंदर हवा के आने-जाने में कोई समस्या नहीं होती और खर्राटे कम आते है।

योग करें 

योग करने से खर्राटे को कम किया जा सकता है। योग  किसी विशेष्ज्ञ की देख-रेख में या सावधानी पूर्वक करे।  खर्राटे से राहत पाने के लिए निम्न प्रकार के आसन करने चाहिए जैसे - अनुलोम-विलोम, भुजंगासन, ताड़ासन करना लाभदायक है। 

निष्कर्ष 

खर्राटे (snoring in hindi) की समस्या के लिए जो भी इलाज यहाँ बताये गए वे सिर्फ सामान्य ज्ञान देते है।  सेवन से पहले चिकित्सक परामर्श अवश्य लें।