डार्क चॉकलेट के फायदे और नुकसान - chocolate ke fadye aur nuksan in hindi.

डार्क चॉकलेट के फायदे और नुकसान - chocolate ke fadye aur nuksan in hindi.
dark chocolate ke fayde


डार्क चॉकलेट बेनिफिट्स इन हिंदी डार्क चॉकलेट अन्य चॉकलेट के अपेक्षा अधिक गाढ़े रंग का होता है।  इसमें कोको का प्रतिशत अधिक होता है, कोको में थियोब्रोमाइन यौगिक उपस्थित होता है जो लो ब्लड प्रेसर कई बीमारियों के जोखिमों को कम करता है।  इसके हेल्थ के लिए बहुत से फायदे है जो इस प्रकार है -


डार्क चॉकलेट क्या होती है - what is dark chocolate in hindi

डार्क चॉकलेट कोको बीन्स से बनी होती है।  इसमें दूध से अधिक कोको मौजूद होता है जिससे यह अधिक पोषक युक्त होती है। एक बार में करीब 50 ग्राम तक चॉकलेट खा सकते है इससे अधिक खाने पर आप अधिक कैलोरी ग्रहण करेंगे।   डार्क चॉकलेट मिनिरल और एंटीऑक्सीडेंट सहित कई पोषक तत्वों से भरपूर होती है। इसमें फ्लेवोनॉइड्स फाइटोन्यूट्रीएंट्स होता है  यह मस्तिष्क के कार्य लिए, कैंसर की रोकथाम और शरीर की सूजन को कम करने बहुत फायदेमन्द होती है आईये  जानते है डार्क चॉकलेट के फायदे -

डार्क चॉकलेट के स्वास्थ्य फायदे - benefits of dark chocolate in hindi

dark chocolate ke fayde in hindi के अनेक फायदे है जिनमे से यहाँ कुछ बताये गए है -

 स्ट्रेस कम करे 

डार्क चॉकलेट में फ्लेवोनोइड्स होने के कारण यह दिमाग के लिए फायदेमंद है।  इससे मस्तिष्क का स्ट्रेस कम रहता है और मूड भी बेहतर रहता है।  यह सेरोटिन का लेवल बढ़ाता है। 

कोलेस्ट्रॉल कम करें 

यह ह्रदय  सबसे अधिक लाभकारी है।  प्रतिदिन एक आउंस (करीब 30 ग्राम) डार्क चॉकलेट प्रतिदिन खाने वालों में हार्ट स्ट्रोक का खतरा कम रहता है।  यह बाद कोलेस्ट्रॉल को कम  करके अच्छे कोलेस्ट्रॉल की कैपिसिटी को बढ़ाता है।  हालाँकि अध्ध्यन जारी है। 

आँखों की रौशनी के लिए 

सुनने अजीब लग सकता है लेकिन डार्क चॉकलेट आँखों की रोशनी को  सुधारने में सहायक है।  इसका सेवन से ब्रेन और रेटिना में रक्त प्रवाह भली भांति होता है। ड्रैगन फ्रूट(dragon fruit) के 13 फायदे और नुकसान


वजन मेन्टेन करे 

पाचन तंत्र दुरुस्त न होने से भी वजन बढ़ता है।  डार्क चॉकलेट आपके इस परेशानी को कम करने में सहायता कर सकता है।  अपने भोजन करने के पहले और बाद में यह चॉकलेट खाने से आपके दिमाग में यह बात जाती है कि आपका पेट बहरा हुआ है और आप अतिरिक्त खाने से बच जाते है।  

प्रेगनेंसी में फायदेमंद 

2016 की एक स्टडी के अनुसार प्रेगनेंसी में डार्क चॉकलेट खाना लाभकारी है लेकिन सिमित मात्रा में ही खाये।  यह प्री-एक्लेम्पिसिया  खतरे को कम करता है लेकिन सिमित मात्रा  ही खाये।  डॉक्टरी परामर्श आवश्यक है।  

रक्त के थक्के जमने से रोके 

2007 के अद्ध्यन में यह पाया गया कि चॉकलेट खाने वाले में खून के थक्के जमना कम था उनकी तुलना में जो नहीं खाते थे। 

अंदरूनी सूजन कम करे 

यह शरीर की सूजन को करता है।  डार्क चॉकलेट खाने से बॉडी के अच्छे योगिन एक्टिव होते है और शरीर के अंदर मुख्य जगहों के सूजन को कम करते है। 

टाइप 2 मधुमेह  लिए 

डार्क चॉकलेट शरीर का ग्लूकोज़ मेन्टेन रखने में मदद करती है क्योंकि डार्क चॉकलेट में शुगर की मात्रा कम होती है टाइप २ डाईबेटिस के लिए अच्छा है।   साथ ही ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कम करती है जो इन्सुलिन का प्रतिरोध करती है।  

ऐसे डार्क चॉकलेट का सेवन करे जिनमे कोको  मात्रा हो, शुगर कम हो 

डार्क चॉकलेट के नुकसान - dark chocolate side effect in hindi

डार्क चॉकलेट खाने के कुछ नुकसान है जो जानने चाहिए। 

डार्क चॉकलेट में ऑक्जलेट पाया जाता है जो किडनी पथरीबनने की ओर प्रेरित करता है।  सिमित से अधिक खाने पर ही ऐसी समस्या हो सकती है। 

इसमें सैचुरेटेड फैट होता है।  30 ग्राम से अधिक सेवन पर वजन बढ़ा सकता है। 

अधिक चॉकलेट लेने पर गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल से पीड़ित हो सकते है। 

डार्क चॉकलेट में कैफीन की अधिक होता है।  अधिक सेवन से डिहाइड्रेशन, ह्रदय गति का बढ़ना, ब्लड प्रेसर बढ़ना हो सकता है। 

जिन्हे किडनी की बीमारी की समस्या है उन्हें इस चॉकलेट के प्रयोग से बचना चाहिए क्योंकि इसमें अधिक पोटेसियम पाया जाता है।  


 निष्कर्ष -

डार्क चॉकलेट के फायदे अनगिनत है यदि भली प्रकार से सिमित खाया जाता है। यहाँ बताई गए फायदे सामान्य है चिकित्सक परामर्श अवश्य लीजिये। 


FAQS


Q - एक डार्क चॉकलेट में कितना प्रतिशत कोको होता है ?

A - 100 ग्राम डार्क चॉकलेट में करीब 70 प्रतिशत कोको होता है। 


Q - डार्क चॉकलेट में कितनी कैलोरी होती है ?

A - 100 ग्राम में करीब 605 कैलोरी