मुँह का कैंसर कैसे होता है - मुँह के कैंसर में क्या खाये

 

मुँह का कैंसर कैसे होता है - मुँह के कैंसर में क्या खाये




मुँह का कैंसर(mouth cancer) जिसे अंग्रेजी में ओरल कैंसर भी कहते है एक गंभीर बीमारी है।  यह कैंसर का सबसे आम प्रकार है। अधिकतर यह उन लोगो में होती है नशीले पदार्थो का सेवन करते है।  इसकी कम जानकारी होने के वजह से इसके इलाज में देरी हो जाती है।  आईये जानते है यह कैसे होती है मुँह के कैंसर का घरेलु इलाज क्या हो सकता है - 

मुँह का कैंसर कैसे  होता है - what is oral cancer in hindi

मुँह का कैंसर व्यक्ति के मुँह के अंतर्गत आने वाले हिस्से जैसे - जबड़े, दांत के नीचे, जीभ, होठ, मसूड़े, तालू में  होता है।  ज्यादातर यह तम्बाकू जैसी नशे वाले चीज़ों के अधिक सेवन से होता है पर दूसरे कारणों से भी कभी-कभी हो जाता है।  

मुँह का कैंसर होने के कारण - reasons of oral cancer in hindi 


कभी-कभी नशीले चीज़ों के सेवन न करने वालों को भी होता है और ये होते है निम्न वजहों से जैसे -

अल्ट्रा वॉइलेट रेज़ से 

अधिक शराब पीने से 

अधिक तम्बाकू 

मौखिक सेक्स करने से 

कुछ विशेष प्रकार की दवाईयों के सेवन से 

अनुवांशिकी होना 


मुँह का कैंसर होने के शुरुवाती लक्षण - symtoms of oral or mouth cancer

मुँह के कैंसर (oral cancer) होने पर कुछ तरह के लक्षण दिखते है -


खाना खाने में दिक्कत होना 
पूरा मुँह न खुलना 
जबड़े के पास कोई निशान दिखाई देना जो लाल  या सफ़ेद रंग(लियुकोप्लेकिया) के हो सकते है ,
दाढ़ के आस-पास गांठ जैसा महसूस होना 
कभी-कभी मुँह से खून आना
आवाज में परिवर्तन 

मुँह से गंध आना 
जीभ पर छाले होना 

मुँह  के कैंसर का इलाज - treatment of mouth or oral cancer

यदि कैंसर का पता शुरुवात में ही चल जाये तो इलाज से ठीक हो जाता है -

















कैंसर सेल्स को हटाने के लिए सर्जरी की जाती है क्योंकि यह अन्य कैंसर के इलाज से आसान होता है इसलिए सर्जरी में आसानी होती है। 


कैंसर के प्रारंभिक स्टेज में दवाईयों द्वारा इलाज करने का प्रयास किया जाता है। इसके साथ ही रेडिओ थेरेपी से भी मुँह के कैंसर का इलाज किया जाता है। 


कीमोथेरेपी तो कैंसर के लिए प्रचलित है।  इसमें कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं को मारा जाता है।

 

मुँह के कैंसर से बचाव के लिए घरेलू उपाय - natural ways to prevent oral cancer in hindi


मुँह के कैंसर (mouth cancer) के उपचार के लिए घरेलू उपायों को कैंसर के शुरुवात में उपयोग किया जाता है पर इसके सहारे नहीं बैठना है सम्पूर्ण इलाज आवश्यक है - 


सबसे पहले रोगी को सभी नशीली पदार्थो को खाना छोडना होता है। 


होठों को तेज धूप से बचाये 


बैलेंस डाइट करे। 


भोजन में विटामिन c, a, e शामिल करें जो कैंसर सेल्स के वृद्धि को रोकती है क्योंकि ऐस फल और सब्जिया में कीमोथेरेपीके गुण होते है।


कुछ तर्क हल्दी और तुलसी के पाउडर को मुँह के कैंसर के इलाज के लिए कहते है पर इसे चिकित्सक के परामर्श पर ही करे। 



यहाँ दी सभी जानकारिया सामान्य है किसी भी उपाए के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करे। 


मुँह का कैंसर हो जाये तो क्या खाये - food for oral and mouth cancer in hindi


मुँह का कैंसर होने पर इस तरह के पदार्थ खाये 

तरल आहार अधिक लें इससे खाने में आसानी होगी। 
ऑपरेशन के बाद रोगी को प्रोटीन, विटामिन युक्त आहार खाने चाहिए क्योंकि इलाज के दौरान कमजोरी आ जाना स्वाभाविक है। 
नट्स खाये इसमें सेलेनियम होता है। 
खाने में हल्दी का प्रयोग करे। 
अंगूर, गाजर, पपीता खाये