Husband and wife relationship problems in hindi- बना रहेगा साथ

जिसका हाथ थाम कर पूरी जिंदगी साथ बिताने  निभाने का वादा करते है, पर समय के साथ रिश्ता जब गाढ़ा होता जाता है  बढ़ने लगती है साथी की शिकायते, कि  पहले तो ऐसे नहीं थी या नहीं   थे, तुम पहले जैसा नहीं समझती या नहीं  समझते। साथी को हो न ऐसी शिकायतें इसलिए कुछ बातों को समझना जरुरी है -

married coples problem in hindi,Husband and wife relationship problems  in hind, happy married life kaise ho sakti hai,
relationship problems


Husband and wife relationship problems  in hindi

married coples problem in hindi-

उदाहरण - प्रिया  और राजन ने लव मैरिज की थी।  उनकी शादी को  तीन साल बीते थे की उनके बीच शिकायतों का सिलसिला शुरू गया।  एक समय था जब राजन प्रिया की   हर बात समझ जाता था दोनों के प्यार के चर्चे सबकी जुबां पर होते  थी। दोस्त उन्हें आदर्श कपल मानते थे।  राजन का कहना है कि  पहले प्रिया  दिल की हर बात समझ जाती थी अब क्यों बतानी पड़ती  और ऐसा ही कुछ प्रिया का भी राजन के बारे में कहना था।  अब उन दोनों में चिड़चिड़ापन  और झुंझुलाहट नजर आती है। 

यह सिर्फ प्रिया  और राजन की नही  बल्कि कई कपल की ऐसी ही कहानी है। समस्या यह नहीं की प्यार कम हो गया, वास्तव में लम्बे कमिटेड रिलेशनशिप  पर साथी के व्यवहार और एक दूसरे से अपेक्षाओं  में बदलाव आ ना लाजमी है। समझदारी रिश्तों को सहेजने में हैं।  कुछ बातों को समझने और उसे जीवन में उतारने की कोशिश करें ताकि पार्टनर को न हो एक - दूसरे से शिकायत।

उनका सपोर्ट  सिस्टम बने -

एक अच्छे पार्टनर की कसौटी है की वह साथी के कदम से कदम मिलाकर चले।  उसका सपोर्ट करे।  उसको  हिम्मत और हौसला देता  रहे।  अपने साथी से उसके जीवन के लक्ष्यों के बारे में बात करे और उसे किस तरह पूरा किया  जा सकता है, इस पर विचार विमर्श करें।  इस बात का ध्यान रखे की बड़े सपनों को  लेकर उनकी आलोचना ना करें। 

पार्टनर  की माँ की तरह व्यवहार न करे -

साथी का ख्याल रखना अच्छी बात है, पर हर बात पर  रोकना -टोकना उनमे झुंझुलाहट पैदा  सकती है जैसे - रूम की  सफाई को लेकर, ठीक टाइम पर सोना, सही टाइम पर जागना इन सबको को लेकर बार -बार टोकेंगी  तो इसमें उनके प्रति आपका  दिखेगा लेकिन जब आपकी रोक -टोक करना आदत बन जाएगी तो चिडचिड़पन आना स्वाभाविक है। 

also read this-(Tips for good relationship between husband and wife in hindi )

एक- दूसरे की पसंद को एन्जॉय करें -

अक्सर टीवी देखने क लेकर कपल्स में तू -तू, मै -मै हो जाती और अधिकतर पत्निया जीत भी जाती है, लेकिन हर बार अपनी चॉइस को ऊपर रखना ठीक नहीं, जैसे कभी -कभी वो आपके सीरियल देख लेते है वैसे ही आप भी उनके शो को एन्जॉय कर  लीजिये इससे उन्हें भी ख़ुशी मिलेगी।


स्पेस देना जरुरी -

रिलेशनशिप का मतलब यह नहीं की हमेशा  किसी मैग्नेट की  तरह चिपके रहना।  अक्सर कुछ  पत्निया हर थोड़ी -थोड़ी देर में खबर लेती रहती है उनकी हर गतिविधि से अपडेट रहना चाहती है।  ख्याल रखिये अच्छी बात है लेकिन इस तरह के रवैये से आपके पार्टनर को  घुटन महसूस होने लगती है।  

एक - दूसरे की प्राइवेसी का सम्मान करें -

आप कपल्स है तो इसका यह मतलब कतई नहीं की आपको पार्टनर की ईमेल पासवर्ड या  फेसबुक अकाउंट की जानकारी हो या वह आपसे साझा करें। ऐसी कोई अपेक्षा उनसे  ना करें ईमेल में उनके प्रोफेशन से सम्बंधित सूचनाएं हो सकती  क्योंकि गोपनीयता बनाये रखना यह उनका दायित्व है।  सोशल साइट्स पर उनके महत्वपूर्ण संवाद हो सकते है, इनसे  निजी संबंधो को दूर रखना चाहिए।  इसी तरह उनका मोबाइल या लैपटॉप खुला मिल जाये तो उसकी तलाशी लेना गलत होगा।  जासूसी की बजाय एक - दूसरे पर विश्वास की डोर को मजबूत करें। 

मन को पढ़ने की अपेक्षा न करें-

महिलाओं की चाहत होती है की उनका पार्टनर उनके कहे ही उनकी हर बात समझ जाये और जब ऐसा नहीं हो पाता  तो वह दुखी हो जाती, पुरषों में भी अक्सर यही देखा जाता है।  जब तक आप एक - दूसरे से मन की बात शेयर नहीं करेंगे तो कैसे पता चलेगा, क्योंकि शादी के पहले जिम्मेदारियां नहीं होती लेकिन बाद में आ जाती है तो ऐसे में हर बार मन को नहीं पढ़ा जा सकता। 

इन पॉइंट्स को अगर आप अपनी शादीशुदा जिंदगी में उतरेंगे  तो काफी हद तक पार्टनर से आपकी शिकायतें  कम हो जाएँगी।